हरिद्वार। परम पूज्य महामंडलेश्वर श्री श्री महादेवानंद जी महाराज की पवन पुण्यतिथि मनाई गई। हरिद्वार के प्रसिद्ध आश्रम श्री श्री भोलानंद सन्यास आश्रम भोला गिरी में परम पूज्य संस्थापक महामंडलेश्वर श्री श्री महादेवानंद जी महाराज की पवन पुण्यतिथि बड़े ही धूमधाम हर्षोल्लास के साथ संत महापुरुषों के कल्याणकारी वचनों के साथ मनाई गई इस अवसर पर अपने श्री मुख से उद्गार व्यक्त करते हुए भोलागिरी आश्रम पीठाधीश्वर परम पूज्य 1008 श्री श्री तेजाशा नंद जी महाराज ने कहा परम पूज्य गुरुदेव ब्रह्मलीन महामंडलेश्वर श्री श्री महादेवानंद जी महाराज त्याग और ज्ञान की एक अखंड मूर्ति थे उन्होंने संपूर्ण विश्व में सनातन परंपरा की धर्म ध्वजा लहराई ब्रह्मलीन महामंडलेश्वर स्वामी महादेवानंद जी महाराज धर्म परायाण समाज को ज्ञान देकर कल्याण की ओर ले जाने वाले परम तपस्वी परम विद्वान संत थे ज्ञान की एक निर्मल कल्याणकारी गंगा का प्रवाह थे इस धरा पर संत महापुरुष गुरु साक्षात ईश्वर के प्रतिनिधि हैं गुरु मिलते हैं ईश्वर से गुरु ही देते ज्ञान इस मनुष्य के नसवान जीवन को गुरु जनही उंगली पकड़कर भवसागर पार कराकर भगवान श्री हरि के चरणों में पहुंचा देते हैं इस कलयुग में कदम कदम पर धर्म-कर्म के कार्य भक्तजनों को ईश्वर से जोड़ते हैं इस अवसर पर दिगंबर श्री राजगिरी महाराज स्वामी निर्मल महाराज महंत कमलेशानंद महाराज महंत महानंद महाराज स्वामी निर्मलानंद सरस्वती जी महाराज श्याम गिरी महाराज सरवन दास महाराज देहरादून बाबा रमेशानंद वरिष्ठ कोतवाल श्री कालीचरण महाराज सहित भारी संख्या में उपस्थित संत महंत भक्तगणों ने ब्रह्मलीन महामंडलेश्वर स्वामी महादेवानंद जी महाराज को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

You missed