हरिद्वार ।आगामी लोकसभा सामान्य निर्वाचन को स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शिता से कुशलतापूर्वक संपन्न कराने के लिए जिलाधिकारी एवम जिला निर्वाचन अधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने सोमवार को एनआईसी कक्ष पहुंचकर कार्मिकों का प्रथम रेंडमाइजेशन। रेंडमाइजेशन के दौरान मुख्य विकास अधिकारी प्रतीक जैन, अपर जिलाधिकारी एवम उप जिला निर्वाचन अधिकारी पीएल शाह, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी यशपाल सिंह, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी अरुणेश पैन्यूली, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी देवेंद्र अधिकारी आदि उपस्थित थे।

प्रथम रेंडमाइजेशन में 8356 कार्मिक लिए गए हैं। जिलाधिकारी ने मंगलवार को सभी विभाग के कर्मचारियों को ड्यूटी स्लिप के साथ ही प्रपत्र 12 के प्रारूप वितरित करने के निर्देश दिए।

*मेडिकल बोर्ड का किया गया गठन*

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिन कार्मिकों की ड्यूटी निर्वाचन प्रक्रिया को संपन्न कराने के लिए लगाई गई है, उनकी ड्यूटी न तो हटाई जाएगी और न ही बदली जाएगी। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य कारणों से ड्यूटी से हटाने के लिए सीएमओ के नेतृत्व में मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है और मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट के अनुसार अनफिट पाए जाने पर ही कार्मिक को निर्वाचन ड्यूटी से हटाया जा सकेगा।

*निर्वाचन से जुड़े कार्मिकों के लिए मतदान के लिए होगी ये व्यवस्था*

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की मतदाता सूची में दर्ज जनपद के मतदान कार्मिक लोकसभा सामान्य निर्वाचन में जिस स्थान पर तैनात होंगे, उसी बूथ पर इडीसी के माध्यम से मतदान कर करेंगे तथा जनपद की मतदाता सूची में दर्ज जनपद के निर्वाचन से जुड़े ऐसे कार्मिक जो बूथ से हटकर तैनात किए गए हैं, वह इडीसी के माध्यम से नजदीकी बूथ पर मतदान कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि अन्य जनपदों के निर्वाचन से जुड़े कार्मिक बैलेट पेपर के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्होंने सभी कार्मिकों को प्रशिक्षण में प्रपत्र 12 के संबंधित प्रारूप नियमानुसार भरकर लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी कार्मिक व्यक्तिगत एवम नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए शतप्रतिशत मतदान करें।

*जिला निर्वाचन अधिकारी ने जनपद में अधिक से अधिक मतदान की अपील की*

जिला निर्वाचन अधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों के साथ ही जनपद के मतदाताओं से अपील करते हुए कहा कि लोकतंत्र में अपने मत के महत्व को समझें और बिना किसी प्रलोभन के मतदान अवश्य करें, क्योंकि मतदान जितना अधिक होगा लोकतंत्र उतना ही सशक्त होगा। उन्होंने लोकतंत्र को और अधिक मजबूत एवम सशक्त बनाने हेतु जनता से अपने–अपने मताधिकार का उपयोग करने का आह्वान किया।

*प्रथम प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन*

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान कार्मिकों को 19 मार्च से 22 मार्च तक बी.एच.ई.एल. (भेल) के कन्वेंशनल हॉल में विभिन्न चरणों में मास्टर ट्रेनरों द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने नियुक्त कर्मियों को निर्देशित किया कि वे निर्वाचन प्रक्रिया की सैद्धांतिक व व्यावहारिक प्रशिक्षण की जानकारी प्राप्त कर लें, ताकि मतदान व मतगणना में उन्हें किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। उन्होंने कहाकि सभी प्रपत्रों का गंभीरतापूर्वक अध्ययन करके जनपद में निष्पक्ष, शांतिपूर्ण व सुरक्षित चुनाव संपन्न कराना सुनिश्चित करें। नियुक्त किए गए पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी प्रथम का निर्देशित किया कि तिथि को प्रशिक्षण समय से 30 मिनट पूर्व प्रशिक्षण स्थल पहुंचकर उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए गंभीरता पूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त करना सुनिश्चित करें।

जिला सूचना विज्ञान अधिकारी यशपाल सिंह ने बताया कि प्रथम रेंडमाइजेशन के लिए जनपद के कुल 14966 कार्मिकों का डाटा फीड किया गया है। उन्होंने बताया कि दूसरा रेंडमाइजेशन ऑब्जर्वर की उपस्थिति में किया जाएगा।

You missed