देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष वंशीधर तिवारी के निर्देशों के क्रम में मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण ने कार्रवाई करते हुए कुल 6 स्थानों पर अवैध प्लॉटिंग को ध्वस्त किया है। आज की कार्रवाई में 100 बीघा से ज्यादा में विभिन्न अवैध प्लॉटिंग को ध्वस्त किया गया। वहीं, मालदेवता क्षेत्र में अवैध रूप से बनाए जा रहे दो आवासीय भवनों को भी सील किया गया।
प्राधिकरण के सचिव मोहन सिंह बर्निया ने बताया कि अजय चौधरी एवं अमित यादव के द्वारा पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी, बिधौली में करीब 12 बीघा में अवैध प्लॉटिंग की गई थी, जिसे आज ध्वस्त किया गया। अपर कंडोली, बिधौली में मनीष के द्वारा 25 बीघा में अवैध प्लॉटिंग की गई थी जिसे भी ध्वस्त किया गया। इसके अलावा पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी के पास ही अजय चौहान ने 25 बीघा में जबकि बिधौली रोड अपर कंडोली में मनीष ने 30 बीघा में अवैध प्लॉटिंग कर ली थी। इसके अलावा फुलसनी में महेंद्र एवं मनोज के द्वारा भी 8 बीघा में अवैध प्लॉटिंग की गई थी। बिधौली रोड, पौंधा में सतीश अग्रवाल के द्वारा 8 बीघा में अवैध प्लॉटिंग की गई थी। उक्त सभी को आज सहायक अभियंता सुनील गुप्ता, अवर अभियंता अनुज पांडेय एवं सुपरवाइजर महावीर सिंह की मौजूदगी में ध्वस्त किया गया। इसके अतिरिक्त, टिहरी लेक रोड, सेरकी मालदेवता में रणवीर सिंह एवं शेखर शर्मा द्वारा किये गए आवासीय अवैध निर्माणों को सहायक अभियंता शैलेंद्र सिंह रावत, अवर अभियंता नितिन नायक एवं सुपरवाइजर मान सिंह की उपस्थिति में ध्वस्त किया गया।

You missed