हरिद्वार, 3 मई। इंडियन किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं भाजपा नेता रामकुमार वालिया ने 15 जून को हरिद्वार में आयोजित किए जा रहे किसान सम्मेलन की जानकारी देते हुए बताया कि सम्मलेन में देश के विभिन्न राज्यों के किसान भाग लेंगे। प्रैस क्लब में आयोजित प्रैसवार्ता के दौरान रामकुमार वालिया ने बताया कि सम्मेलन में किसानो की समस्याओं, आधुनिक कृषि तकनीक पर चर्चा के साथ बेहतर कृषि उत्पादन करने वाले किसानों को सम्मानित भी किया जाएगा। रामकुमार वालिया ने फसल बीमा योजना लागू करने, कृषि यंत्रों व खाद पर लगने वाली जीएसटी को समाप्त करने की मांग करते हुए कहा कि फसल बीमा योजना लागू कर सरकार बीमा की किश्त का भुगतान करे। इससे सरकार को बिना अतिरिक्त बोझ के किसानों को होने वाले नुकसान की भरपाई करने में भी मदद मिलेगी। प्रैसवार्ता के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में किसान विकास प्राधिकरण का गठन करने की मांग करते हुए कहा कि चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद इस मुद्दे को आगे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसान देश की आबादी का सबसे बड़ा हिस्सा है। इसके बावजूद किसानों की दशा में कोई बदलाव नहीं आ पाया है। हालात में बदलाव के लिए सभी किसानों को एक मंच पर आना होगा। जैविक खेती पर जोर देते हुए वालिया ने कहा कि वर्तमान में जैविक उत्पादों की बेहद मांग है। खासतौर पर उत्तराखंड के जैविक उत्पादों की देश विदेश में भारी मांग है। अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए किसानों को जैविक खेती अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। रामकुमार वालिया ने मंगलौर विधानसभा सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए अपनी दावेदारी पेश करते हुए कहा कि मंगलौर किसान बाहुल्य सीट है। भाजपा उन्हें या किसी भी स्थानीय किसान को मौका दे। प्रैसवार्ता में मनोज कुमार चैहान, राजेश रस्तोगी, मनोहर चैहान, चैधरी मगन सिंह, आदेश त्यागी, सोनू, अर्जुन मुखिया, समीर आदि भी मौजूद रहे।

You missed