हरिद्वार।राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के उपलक्ष्य में बीएचईएल हरिद्वार में आयोजित किए गए सुरक्षा पखवाड़ा का समापन, आज नवीन अभियांत्रिकी भवन सभागार में एक गरिमामय समारोह के साथ हुआ । इस वर्ष के सुरक्षा पखवाड़े का विषय था “पर्यावरण, सामाजिक और नियमन उत्कृष्टता हेतु सुरक्षा नेतृत्व पर ध्यान” । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बीएचईएल हरिद्वार के कार्यपालक निदेशक श्री टी. एस. मुरली ने, दीप प्रज्वलन कर समारोह का शुभारम्भ किया ।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्री टी. एस. मुरली ने सुरक्षित रहते हुए कार्य करने पर जोर दिया और कहा कि, हम सभी को सुरक्षा के क्षेत्र में और अधिक सुधार के लिए लगातार प्रयत्न करना चाहिए । उन्होंने बताया कि औद्योगिक दुर्घटनाओं की रोकथाम हेतु हमें आत्‍म निरीक्षण करते हुए यह देखना होगा, कि कौन से कारण सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करते हैं । महाप्रबंधक (डब्ल्यूईएंडएस, सीआईएक्स) श्री जे. के. पुण्डीर ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि, हमें सुरक्षा को अपना कर्तव्य समझते हुये कार्य करना चाहिये । श्री सुधीर कुमार सिंह, सुरक्षा अधिकारी, हीप तथा श्री सुनील कुमार साहू, सुरक्षा अधिकारी, सीएफएफपी ने क्रमश:, अपनी-अपनी इकाइयों में सुरक्षा एवं पर्यावरण से सम्बंधित कार्यों की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की । समारोह में सुरक्षा एवं पर्यावरण से सम्बंधित एक पोस्टर प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया ।

उल्लेखनीय है कि सभी कर्मचारियों की सक्रियता से पिछले 6 सालों में प्रभाग में कोई भी जीवन क्षति नहीं हुई है, एवं दुर्घटनाओं की गम्भीरता में भी कमी आयी है । इसके अतिरिक्त हाल ही में हीप इकाई को पर्यावरण के अनुकूल कार्य प्रणाली हेतु, सीआईआई शोहराब जी गोदरेज ग्रीन बिजनेस सेन्टर, हैदराबाद द्वारा ग्रीनको सिल्वर प्रमाण पत्र भी प्रदान किया गया है, जो कि संस्थान के लिए गर्व की बात है ।

समारोह में सुरक्षा पखवाड़ा के उपलक्ष्य में आयोजित की गई विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं के साथ ही, उत्पादकता सप्ताह के दौरान आयोजित की गई प्रतियोगिताओं के विजेताओं को भी पुरस्कृत किया गया । इस अवसर पर महाप्रबंधकगण, प्रमुख (एचएसई) हीप श्री ए. के. कटारिया, प्रमुख (एचएसई) सीएफएफपी श्री नारायण कुमार, वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी तथा यूनियन एवं एसोसिएशन के प्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे ।

You missed