हरिद्वार। संत महापुरुषों के सानिध्य और ज्ञान की गंगा के प्रवाह की केंद्रस्थली बना नवनिर्मित शक्ति साधना धाम भूपतवाला हरिद्वार 29 फरवरी 2024 को भूपत वाला स्थित नवनिर्मित शक्ति साधना धाम आश्रम भारत माता पुरम हरिद्वार का लोकार्पण संत महापुरुषों के पावन सानिध्य में महोत्सव में किया गया। परम पूज्य गुरुदेव परम विभूषित परम पूज्य युगपुरुष महामंडलेश्वर स्वामी परमानंद गिरि जी महाराज की परम कृपा अनुसार श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर स्वामी चित्प्रकाशनानंद गिरि जी महाराज के परम सानिध्य तथा कृपा में नवनिर्मित शक्ति साधना धाम आश्रम का लोकार्पण किया गया इस अवसर पर बोलते हुए निर्मल पंचायती अखाड़े के पीठाधीश्वर श्री महंत श्री ज्ञान देव जी महाराज ने कहा संत महापुरुषों का जीवन समाज को समर्पित होता है उनके प्रत्येक कार्य में भक्तों का हित निहित होता है इस अवसर पर बोलते हुए श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर चित्प्रकाशनंद गिरी महाराज ने कहा नवनिर्मित शक्ति साधना धाम लोकार्पण के समय हरिद्वार तथा देश के कोने-कोने से आए संत महापुरुषों के ज्ञान की गंगा की स्थली बना हुआ है बड़े ही गर्व और गौरव की बात है की इस नव निर्मित भवन में इतने सिद्ध संत महापुरुषों के चरण पड़े तथा उनके श्री मुख से ज्ञान की गंगा के रूप में भक्तों के लिए कल्याणकारी वचनों का प्रवाह देखने के लिए मिला इस पृथ्वी लोक पर दो गंगा हैं एक तो माता भागीरथी जिस मे स्नान करने मात्र से मनुष्य के जीवन के सभी कष्ट संताप समाप्त हो जाते हैं जन्मो जन्म के पाप नष्ट हो जाते हैं दूसरी गंगा संत महापुरुषों के श्री मुख से ज्ञान के रूप में बहने वाली गंगा है जो भक्तों को कल्याण के साथ-साथ भवसागर पार करा देती है भक्तों का तन मन संतो के आशीर्वचनों से धन्य हो जाता है उनका लोक और परलोक दोनों सुधर जाते हैं वे लोग बड़े ही भाग्यशाली होते हैं जिन्हें संत महापुरुषों का सानिध्य करने का सौभाग्य प्राप्त होता है नवनिर्मित शक्ति साधना धाम संत महापुरुषों के श्री मुख से बहने वाली ज्ञान की गंगा का मुख्य प्रवाह केंद्र बना हुआ है यह भक्तजनों के लिए बड़े ही सौभाग्य का विषय है इस ज्ञान रूपी गंगा में स्नान कर अपने जीवन को धन्य बना लो संतों की संगत और हरि भजन बड़े ही भाग्यशाली लोगों को प्राप्त होती है इस अवसर पर आयोजित विशाल भंडारे में सभी संत महापुरुषों ने भोजन प्रसाद ग्रहण किया इस अवसर पर साध्वी सेवा मूर्ति मां शक्ति शांम्भवी चेतनागिरी साध्वी श्री अपरजिता गिरी श्री स्वामी नरोत्तमानंद महाराज स्वामी उमेशानंद गिरि श्री श्री स्वामी परम प्रकाश महाराज स्वामी वेदानंद गिरी महाराज साध्वी वेद प्रकाश महाराज स्वामी अनंतानंद स्वरूप महाराज श्री श्याम गिरी महाराज सरवन दास महाराज धर्मदास महाराज मनोजा नंद प्रवीण कश्यप रामदास महाराज वरिष्ठ कोतवाल कालीचरण जी महाराज सहित भारी संख्या में संत महापुरुष तथा भक्तगण उपस्थित थे

You missed