हरिद्वार। बीएचईएल हरिद्वार ने पश्चिम बंगाल स्थित सागरदीघी परियोजना के लिए जनरेटर स्टेटर का निर्माण कार्य सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है । 660 मेगावाट क्षमता के इस सुपर क्रिटिकल जनरेटर स्टेटर की आज आपूर्ति की गई । बीएचईएल हरिद्वार के कार्यपालक निदेशक श्री प्रवीण चन्द्र झा तथा वेस्ट बंगाल पावर डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड (डब्ल्यूबीपीडीसीएल) के कार्यपालक निदेशक (प्रोजेक्ट्स एंड प्लानिंग) श्री समीर चंद्र रॉय ने हरी झंडी दिखाकर स्टेटर को रवाना किया ।

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री प्रवीण चन्द्र झा ने कहा कि 320 टन वजनी तथा 10.16 मीटर लम्बे इस स्टेटर का निर्माण, संस्थान के सभी कर्मचारियों की कड़ी मेहनत एवं लगन का नतीजा है । उन्होंने कहा कि इस उपलब्धि के साथ ही बीएचईएल हरिद्वार ने थर्मल सेट उत्पादन के क्षेत्र में, अपनी तकनीकी दक्षता तथा कौशल को एक बार फिर साबित कर दिया है । श्री समीर चंद्र रॉय ने स्टेटर की आपूर्ति के लिए, बीएचईएल का आभार व्यक्त किया ।

उल्लेखनीय है कि बीएचईएल को डब्ल्यूबीपीडीसीएल से सागरदीघी परियोजना का महत्वपूर्ण आर्डर प्राप्त हुआ था । करीब 3500 करोड़ रूपए के इस आर्डर से सम्बंधित आपूर्ति, वर्ष 2021 से ही शुरू हो चुकी है । इससे पूर्व भी सागरदीघी परियोजना के लिए, 500 मेगावाट क्षमता के दो जनरेटर स्टेटर भेजे जा चुके हैं । इस अवसर पर महाप्रबंधकगण, वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी तथा यूनियन एवं एसोसिएशन के प्रतिनिधि आदि उपस्थित थे ।

You missed