हरादून: चिपको आन्दोलन की जननी गौरा देवी की पुण्य तिथि पर प्रेस क्लब देहरादून में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।जिसमें वक्ताओं ने अपने विचार रखे ।

पर्यावरण की सुरक्षा में वनों की भूमिका के साथ बर्तमान समय में पर्वतीय क्षेत्र के निवासियों को बनाधिकार और हकों पर चर्चा की गयी, इस पर विगत कई माह से काँग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के नेतृत्व में वनाधिकार आन्दोलन चलाया जा रहा है।

जिसकी प्रमुख माँगों मे,केन्द्र सरकार की सेवाओं में आरक्षण,परिवार के एक सदस्य को सरकारी सेवा में नौकरी,प्रतिमाह 1 गैस सिलेन्डर,बिजली,पानी मुफ, स्थानीय लोगों का जडी़ बूटीयों पर अधिकार,जँगली जानवरों द्वारा जन हानि पर 25 लाख रूपये की राहत राशि और पारिवारिक सदस्य को नौकरी देने की माँग की गयी,साथ ही प्रदेश में अविलंम्ब चकबँन्दी लागू की जाय।

इस मोके पर गोष्ठी में उपस्थित वरिष्ट जनप्रतिनिधियों ने पर्वर्तीय क्षेत्र के निवासियों की जल,जँगल जमीन अपनी होने पर भी लाभ न मिलने पर रोश प्रकट किया।

बैठक की गोष्ठी में,जयप्रकाश उत्तराखंडी,कृपाल सरोज, राजेन्द्र भंडारी,जोत सिंह बिष्ट, प्रेम बहुखंडी,और काँग्रेस की वरिष्ठ नेत्री गरिमा दसौनी,आदि मौजूद थे। बैठक का सँचालन प्रेम बहुखँडी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *