देहरादून। पर्वाधिराज दशलक्षण धर्म महापर्व के छठवें दिन उत्तम संयम धर्म के दिन नित्य की तरह सभी जिन मंदिरों में पूजा अर्चना बड़े ही आनंद और भक्ति भाव से की गई। यह कार्यक्रम 108 मुनि श्री विबुद्ग सागर जी एवम 105 क्षुल्लक श्री समर्पण सागर जी महाराज के सानिध्य में किया जा रहा है। सभी कार्यक्रम जैन धर्मशाला गांधी रोड पर किये जा रहे हैं।,इस विधान को जैन मुनि 108 आचार्य श्री विबुद्ध सागर जी एवम 105 क्षुल्लक श्री समर्पण सागर जी महाराज का आशीर्वाद निरंतर प्राप्त हो रहा है , प्रतिदिन प्राप्त 6रू30 बजे से श्रीजी का अभिषेक शांति धारा नित्य नियम पूजन किया जा रहा है। विश्व शांति और कल्याण की भावना से प्रतिदिन शांति धारा की जा रही है, आज की शांति धारा करने का सौभाग्य श्री अमित जैन श्रेया डेंटल टर्नर रोड को प्राप्त हुआ अहमदाबाद से विद्वान पंडित श्री महेंद्र जैन द्वारा दोनो मुनियों के आशीर्वाद से यह परम सुखदाई विधान कराया जा रहा है। मेरठ से पधारे संगीतकार अमित दीपू पूरे विधान को लय बद्ध तरीके से संगीत और मधुर भजन के साथ इस विधान को बहुत आनंद दाई बना रहे है उनकी मधुर वाणी से श्रद्धालु सहज ही भक्ति रस में सराबोर हो रहे है। आज षष्टम धर्म उत्तम संयम धर्म की व्याख्या करते हुए विधानाचार्य पंडित महेंद्र जैन जी ने बताया कि जीवन में संयम धर्म का बहुत महत्व है संयमी मनुष्य जीवन में सुख प्राप्त करता है जबकि असंयमी अनेक कष्ट प्राप्त करता है,उपयोग को पर पदार्थों से समेट कर आत्म सम्मुख करना आत्मा में एकाग्र होना ही उत्तम संयम कहलाता है पर पदार्थ अर्थात मिथ्यात्व भाव कषाय भाव राग आदि भाव हिंसा आदि का त्याग करना एवम पांचों के विषयों को जितना उत्तम संयम धर्म है।इसी में मनुष्य की आत्मा का कल्याण होता है।आज संध्या काल में श्री जी की आरती की गई एवं जैन मिलन ज्योति शाखा द्वारा धार्मिक अक्षर निधि गेम,धार्मिक प्रश्न मंच प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमें समाज के बच्चों महिलाओं एवं पुरुषों ने बड़े उत्साह से भाग लिया। मिलन शाखा ने सभी प्रतिभागियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया ,इस अवसर पर जैन मिलन ज्योति की अध्यक्ष वीरांगना कौशल जैन मंत्री निशा जैन एवम् सभी सदस्य वीरांगनाओ ने सुंदर महावीर प्रार्थना की, इस कार्यक्रम में मंदिर समिति के अध्यक्ष श्री दिनेश जैन मंत्री श्री प्रवीण जैन कोषाध्यक्ष प्रदीप जैन उपाध्यक्ष मुकेश जैन प्रतीक जैन डॉक्टर रोहित जैन संजय जैन हिमांशु जैन गोपाल सिंघल एवं संयोजक आदिश जैन राहुल जैन, महिलाओं में अंजलि जैन रमा जैन प्रीति जैन दिव्या जैन सारिका रजनी जैन मीता जैन सुधा जैन रीना जैन रेखा जैन मधु जैन मुख्य रूप से उपस्थित रहे कार्यक्रम के अंत में मंदिर प्रबंध समिति के मंत्री वीर प्रवीण जैन ने सभी का आभार व्यक्त किया एवं सुंदर कार्यक्रम के लिए जैन मिलन ज्योति का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *