संवाददाता
देहरादून, 24 मई। पुलवामा में आतंकवादियों से एनकाउंटर में शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी निकिता ढौंडियाल 29 मई को सेना की वर्दी पहनने के साथ ही लेफ्टिनेंट बन जाएंगी। उन्होंने पिछले साल इलाहाबाद में वूमेन एंट्री स्कीम की परीक्षा पास की थी।
आपको बता दें कि कश्मीर के पुलवामा में 8 फरवरी 2019 में आतंकियों से लोहा लेते हुए देहरादून निवासी मेजर विभूति ढौंडियाल शहीद हो गए थे। इसके बाद निकिता ने पति के नक्शे कदम पर चलते देश सेवा करने की ठान ली। पिछले साल इलाहाबाद में वूमेन एंट्री स्कीम की परीक्षा पास करने के बाद चेन्नई की ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी से ट्रेनिंग ले रही थी। अब निकिता ने ट्रेनिंग पुरी कर ली है। बतौर लेफ्टिनेंट सेना में शामिल होने के लिए वे पूरी तरह से तैयार हैं। शनिवार को निकिता लेफ्टिनेंट बनने के साथ ही देश की सेवा में जुट जाएंगी। लेफ्टिनेंट कर्नल विकास नौटियाल ने बताया कि 29 को निकिता पास आउट हो जाएंगी। इस समारोह में उसके पिता फरीदाबाद से जाएंगे। अन्य परिजनों को भी जाना था, लेकिन कोरोना की वजह से नहीं जा पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि पासआउट होने के बाद वे 21 दिन के लिए छुट्टी पर आ रही हैं। चेन्नई से वे सीधा अपने पिता के पास फरीदाबाद जाएंगी। उत्तराखंड में कोरोना की स्थिति सामान्य होने पर वे देहरादून आएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *