रुड़की। सोलानीपुरम में कथित धर्मांतरण और चर्च में तोड़फोड़ मामले में नया मोड़ आ गया है। कुछ लोगों ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि रविवार के दिन उनको चर्च में बुलाया गया था। दो-दो लाख रुपये का लालच देकर धर्म परिवर्तन करने के लिए कहा गया था। तहरीर में आरोप है कि धर्म परिवर्तन करने पर नौकरी देने और फ्री में बच्चों को स्कूल में पढ़ाने का भी लालच दिया गया था। मामले में पुलिस तहरीर के आधार पर केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है।
तहरीर देने वाली युवती ने बताया कि तरह-तरह के लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने की बात की जा रही थी, लेकिन जब हमारे भगवान के बारे में अपशब्दों का उपयोग किया गया, जिसका उन्होंने विरोध किया गया। ऐसा करने पर उनके साथ गाली-गलौज और मारपीट की गई। साथ ही उनकी सोने की चेन सहित अन्य सामान छीन लिया गया। जब शोर मचाया तो आसपास के लोग मौके पर पहुंचे, जिनके द्वारा उनको बचाया गया। आरोप है की हिन्दू देवी-देवताओं के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया, जिसका विरोध करने पर उनके साथ गाली-गलौज और मारपीट करते हुए सोने की चेन और अन्य सामान छीन लिया गया। दरअसल, रविवार की सुबह अज्ञात भीड़ के द्वारा सोलानीपुरम में एक चर्च पर हमला कर प्रार्थना कर रहे लोगों के साथ मारपीट कर दी गई थी, जिसमे करीब एक दर्जन लोग घायल हो गए थे, जिनको उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिनमें से एक की गंभीर हालत को देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था। मामले में पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए 8 नामजद और 200 अज्ञात लोगों के खिलाफ डकैती और लूटपाट की धाराओं में मुकदमा दर्ज मामले की जांच की जा रही है। मामले में बीती रात कुछ लोगों ने पुलिस को तहरीर देकर लालच देकर धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाया है, पुलिस अब मामले की जांच कर रही है। खबर लिखे जाने तक पुलिस केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *