हरिद्वार। बोर्ड परीक्षाओं को नकलविहीन एवं सुचितापूर्वक चुनावी मोड में सम्पन्न कराना सुनिष्चित करें। यह निर्देश जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल ने षुक्रवार जिला कार्यालय सभागार में बोर्ड परीक्षा हेतु चल रही तैयारियों की समीक्षा करते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिये।
उन्होंने निर्देषित करते हुए कहा कि सभी केन्द्रों में बोर्ड परीक्षाएं शान्तिपूर्ण एवं सुचितापूर्वक चुनावी मोड में सम्पन्न कराई जाये। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि एक्जाम पेपर्स को सीसीटीवी की निगरानी में सुरक्षित रखा जाये तथा पेपर कक्ष के बाहर भी सुरक्षात्मक दृष्टि से कार्मिकों की तैनाती की जाये। उन्होंने निर्देषित करते हुए कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा से जुड़े स्टाफ को ही प्रवेष दिया जाये और किसी अन्य व्यक्ति को प्रवेष न दिया जाये। आन्तरिक सचल दलों का गठन किया जाये और बालिकाओं की तलाषी महिला स्टाफ द्वारा ही ली जाये। विद्यार्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर मोबाइल न ले जाने दिया जाये। वित्त विहीन विद्यालयों के टीचर्स की ड्यूटी सरकारी टीचर्स उपलब्ध न होने पर ही विषेष परिस्थितियों में लगाई जाये।
उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि बच्चों में एक्जाम फोबिया न हो, इसलिए बच्चों की काउंसिलिंग की जाये। परीक्षा केन्द्रों पर फस्र्ट एड बाॅक्स की व्यवस्था की जाये और सीएचसी, पीएचसी सहित मुख्य चिकित्साधिकारी का नम्बर सभी परीक्षा केन्द्रों में उपलब्ध कराया जाये।
बैठक में मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता ने बताया कि 27 फरवरी से 16 मार्च तक चलने वाली हाईस्कूल तथा इण्टरमीडिएट बोर्ड परीक्षाकों के सुचितापूर्वक सम्पन्न कराने के लिए कुल 118 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं, जिसमें से 16 परीक्षा केन्द्र संवेदनषील तथा 5 परीक्षा केन्द्र अतिसंवेदनषील बनाए गए है। उन्होंने बताया कि इस बार 11 नए परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। इस बार 17 एकल परीक्षा केन्द्र बनाए गए है। उन्होंने बताया कि परीक्षा को नकलविहीन सम्पन्न कराने के लिए जनपद को 7 सेक्टरों में बांटते हुए सेक्टर मजिस्ट्रेट्स की तैनाती की गई है जबकि जनपद स्तरीय 2 सचल दलों का भी गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि उत्तर पुस्तिकाओं के संकलन हेतु 2 संकलन केन्द्र बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष बोर्ड परीक्षा में जनपद से 45232 विद्यार्थी परीक्षा हेतु पंजीकृत है। जिसमें से हाईस्कूल में 12676 बालक व 12156 बालिकाएं तथा इण्टरमीडिएट में 11107 बालक व 9293 बालिकाएं परीक्षा हेतु पंजीकृत है। उन्होंने सभी को परीक्षा निर्देषिका का विधिवत अध्ययन करने तथा विद्यार्थियों का सीटिंग प्लान पूरी पारदर्षिता से तैयार करने के निर्देश दिये।
बैठक में सचिव रेड क्रास नरेश चैधरी, बीडीओ बहादराबाद मानस मित्तल, प्रधानाचार्य महेश प्रसाद यादव, प्रधानाचार्य भीखाराम सिंह, प्रधानाचार्य मंजू सैनी, प्रधानाचार्य रामेश्वर पवार, प्रधानाचार्य रमेश कुमार, केंद्र संस्थापक संजय गर्ग, प्रधानाचार्य मनीष कुमार श्रीवास्तव, प्रधानाचार्य विजेंद्र सिंह, प्रधानाचार्य रवि कुमार, प्रधानाचार्य डॉ ओमसिंह सैनी, प्रधानाचार्य श्रद्धा देवी, प्रधानाचार्य सुधीर कुमार श्रीवास्तव, प्रधानाचार्य डॉ लक्ष्मी देवी, प्रधानाचार्य ऋषिपाल सिंह, प्रधानाचार्य विजय कुमार, प्रधानाचार्य डॉ घनश्याम गुप्ता, कस्टोडियम, केन्द्र व्यवस्थापक तथा प्रवक्ता मौजूद थे।

You missed