हरिद्वार। जिलाधिकारी श्री धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में शनिवार को विकास भवन सभागार में जिला गंगा संरक्षण समित की एक बैठक आयोजित हुई l बैठक में डीएफओ श्री नीरज शर्मा ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से गंगा संरक्षण के सम्बन्ध में उठाये गये कदमों के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी l बैठक में कास्सावान नाले में आपत्तिजनक सामग्री डाले जाने के संबंध में चर्चा हुई, जिस पर जिलाधिकारी ने बार-बार आने वाली ऐसी शिकायतों का संज्ञान लेते हुये अपर जिलाधिकारी( वित्त-राजस्व) के निर्देशन में उप जिलाधिकारी सदर , जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी, पुलिस तथा अन्य समिति के सदस्य आपसी समन्वय बनाते हुए कस्सावान नाले का सप्ताह में दो दिन निरीक्षण करने के निर्देश दिये तथा कहा कि दोषी पाए जाने पर संगत धाराओं में कार्रवाई करना सुनिश्चित करेंl

बैठक में विभिन्न गंगा घाटों, नालो एवं अन्य स्थानों पर अवैध अतिक्रमण के सम्बन्ध में विचार विमर्श हुआ, जिस पर अधिकारियों ने बताया कि अवैध अतिक्रमण के खिलाफ निरंतर कार्रवाही की जा रही है, इस पर जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि अवैध अतिक्रमण कहीं पर भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा l

जिलाधिकारी द्वारा प्रमुख स्थानों पर जाली आदि लगाए जाने के सम्बन्ध में पूछे जाने पर अधिकारियों ने बताया कि इस सम्ब्ंध कार्रवाई गतिमान है।इसके अतिरिक्त नगर निगम के अधिकारियों ने मूर्ति विसर्जन की व्यवस्था व अन्य के सम्बन्ध में विस्तार से जिलाधिकारी को जानकारी दी l इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वित्त राजस्व) श्री दीपेन्द्र सिंह नेगी, सुश्री मीनाक्षी मित्तल प्रोजेक्ट मैनेजर जल निगम गंगा, महामंत्री श्रीगंगा सभा श्री तन्मय वशिष्ठ डॉ. पंकज कुमार जैन एसीएमओ, सचिव इंडियन रेड क्रॉस डॉ नरेश चैधरी , श्रीमती मंजू सिंचाई विभाग, श्री अमित शर्मा प्रोजेक्ट मैनेजर एन एच , श्री राकेश कुमार जल संस्थान, सुश्री मीरा रावत आपदा प्रबंधन अधिकारी , श्री कपिल देव, श्री शिखर पालीवाल सहित सम्बंधित पदाधिकारी व अधिकारी उपस्थित थे।

You missed