हरिद्वार। उत्तराखण्ड गो सेवा आयोग के अध्यक्ष पं० राजेन्द्र अणथ्वाल की अध्यक्षता में रविवार को कलक्ट्रेट सभागार में गोवंश के प्रति जनपद में उठाये गये कदमों तथा किये जा कार्यों के सम्बन्ध में एक समीक्षा बैठक आयोजित हुई l उत्तराखण्ड गो सेवा आयोग के अध्यक्ष पं० राजेन्द्र अणथ्वाल को बैठक में अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) श्री पीo एलo शाह ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से गोवंश के प्रति जनपद में उठाये गये कदमों तथा किये जा रहे कार्यों के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दीl

बैठक में उत्तराखण्ड गो सेवा आयोग के अध्यक्ष ने नगर निगम रूडकी के अधिकारियों से गोवंश के प्रति किये जा रहे कार्यों के संबंध जानकारी ली तो अधिकारियों ने बताया कि ग्राम सालियर में गौसदन के निर्माण कार्य हेतु ई-निविदा आमंत्रित की गयी थी, संबंधित फर्म ने यह कार्य संतोषजनक रूप से पूर्ण कर दिया है तथा गौसदन के निर्माण के उपरान्त अप्रोच सड़क का भी निर्माण कर दिया गया है तथा इसका संचालन जल्दी ही प्रारंभ कर दिया जायेगा l इसके अतिरिक्त गौवंश हेतु एक और केंद्र विकसित करने हेतु डी०पी०आर० तैयार कर दी गयी है, जिसके लिये शीघ्र ही निविदा आमंत्रित की जायेगी l बैठक में अधिकारियों ने यह भी जानकारी दी कि गौवंश की रक्षा हेतु चालान टीम का गठन कर गाय को लावारिस छोडने वालों के प्रति चालान की कार्यवाही की जा रही है l
पं० राजेन्द्र अणथ्वाल ने बैठक में नगर निगम हरिद्वार के अधिकारियों से गोवंश के प्रति उठाये गये कदमों के बारे में पूछा तो अधिकारियों ने बताया कि ग्राम सराय में 500 गायों की क्षमता वाले गौशाला के निर्माण हेतु भूमि का चयन कर निविदा आमंत्रित की जा चुकी है तथा सम्बन्धित एल-1 फर्म को कार्यादेश जारी किये जाने की कार्यवाही गतिमान है। इस पर आयोग के अध्यक्ष ने इस दिशा में और तेजी लाने के निर्देश दिये l
बैठक में मा o अध्यक्ष ने नगर पालिका परिषद् शिवालिकनगर के अधिकारियों से इस बारे में जानकारी ली तो अधिकारियों ने बताया कि गौ सदनों के निर्माण हेतु भूमि उपलब्ध कराये जाने के संबंध में निदेशक शहरी विकास निदेशालय, देहरादून से अनुरोध किया गया है तथा पालिका क्षेत्रान्तर्गत निराश्रित गौवंश को निकाय के निकट गौशाला में सुरक्षित भेजने की कार्यवाही गतिमान है।
बैठक में नगर पंचायत पाडली गुर्जर के अधिकारियों ने मा o अध्यक्ष को बताया कि चावमंडी रूडकी के पनियाला चंदापुर में वर्तमान में गोवंश की संख्या 150 है तथा 150 अतिरिक्त गौवंश की क्षमता हेतु डी०पी०आर० शासन प्रस्तुत कर दी गई है l बैठक में नगर पालिका परिषद लक्सर के अधिकारियों ने जानकारी दी कि गोशाला के निर्माण हेतु लक्सर में भूमि चयनित की गई है, जिसकी लगभग 78 लाख की डी०पी०आर० तैयार कर स्वीकृति हेतु शासन को प्रेषित की गयी है, जिसमे 50 गोवंश को रखा जा सकता है तथा वर्तमान मे निकाय एवं स्वमसेवी संस्थाओं द्वारा ओवर ब्रिज के नीचें अस्थाई गोशाला संचालित की जा रही है। उत्तराखण्ड गो सेवा आयोग के अध्यक्ष पं० राजेन्द्र अणथ्वाल ने अधिकारियों से कहा कि वे गो सेवा के प्रति जो भी कदम उठायेंगे आयोग का उसमें पूरा सहयोग प्राप्त होगा l उन्होंने अधिकारियों को गोशाला आदि के निर्माण के संबंध में दिशा- निर्देश भी दिये l इस अवसर पर एसडीएम श्री अजय वीर सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ योगेश शर्मा सहित संबंधित पदाधिकारी तथा अधिकारी उपस्थित थे l

You missed