देहरादून:  थाना कैंट अंतर्गत डाकरा निवासी एक व्यक्ति से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर सुपरवाइजर पद पर नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। डाकरा निवासी देवशंकर तिवारी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि 7 सितंबर 2020 को एक समाचार पत्र के क्लासिफाइड में नौकरी का विज्ञापन दिया गया था। विज्ञापन में एयरपोर्ट पर सुपरवाइजर की नौकरी की बात लिखी हुई थी।
विज्ञापन देखकर देवशंकर ने विज्ञापन देखकर दिए गए नंबर पर संपर्क किया,जिसमें उनके दस्तावेज मांगे गए। इसके बाद एक महिला ने अपना नाम आरोही वर्मा बताते हुए फोन किया. महिला ने देव शंकर को बताया कि उनका चयन हो गया है और पंजीकरण के लिए 1750 रुपय देने होंगे.उसके बाद 17 दिसंबर को देवशंकर को बताया गया कि अब पूरी तरह से चयन हो गया है।
जिसके लिए ढ़ाई लाख रुपए देने की मांग की गई। व्यक्ति ने यह रकम भी बताए गए खाते में जमा करा दिए। लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें नौकरी नहीं मिली, जब उन्होंने इस संदर्भ में पूछा तो जवाब संतोषजनक नहीं मिला।
जिसके बाद उन्हें अपने साथ ठगी होने का अहसास हुआ। थाना कैंट प्रभारी विद्याभूषण नेगी ने बताया कि पीड़ित की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *